,

दैनिक जीवन के लिए 5 सरल मंत्र


मंत्र क्या है ।? मंत्र एक शब्द ,एक शब्दांश, या वाक्यांश है जिसे ध्यान के समय दोहराया जाता है। मंत्रों को मन में बोला जाता है ,जप किया जाता है मन में उच्चारण , या दोहराया जाता है । आप मंत्र उच्चारण माला के साथ  भी कर सकते हो ,जिससे मंत्र दोहराने में सहायता होती है।

क्या मंत्र जप प्रभावी है?

मंत्रों का जाप करके, अवचेतन मन को मंत्र के साथ जोड़ा जाता है ।हर मंत्र की अपनी चेतना होती है जिसके जप से वो व्यक्ति जुड़ जाता है।

हिंदू धर्म के कुछ प्रमुख मंत्र हैं –

1. ओम् या ओम।

ओम हिंदू धर्म में एक पवित्र ध्वनि और आध्यात्मिक प्रतीक है। यह परम वास्तविकता, चेतना या आत्मा का सार दर्शाता है। यह प्रतीक वेदों ,उपनिषदों और अन्य हिंदू ग्रंथों में अध्यायों की शुरुआत और अंत में अक्सर मिलता है।

2. ओम नमः शिवाय। 

इस मंत्र का शाब्दिक अर्थ है ‘मैं शिव को नमन करता हूं’।
यह सबसे लोकप्रिय हिंदू मंत्रों में से एक है और शैव धर्म में सबसे महत्वपूर्ण मंत्र है। “नमः शिवाय” का अर्थ है “शुभ के लिए नमस्कार!”, या “भगवान शिव की आराधना”, या “सार्वभौमिक चेतना एक है”।

3. हरे कृष्ण। 

हरे कृष्ण मंत्र, जिसे महा मंत्र (“महान मंत्र”) के रूप में श्रद्धापूर्वक कहा जाता है, एक 16-शब्द हिंदू मंत्र है जो 15 वीं शताब्दी से चैतन्य महाप्रभु की शिक्षाओं के बाद भक्ति आंदोलन में महत्वपूर्ण रूप से बढ़ गया। मंत्र इस प्रकार है –

हरे कृष्ण हरे कृष्ण
कृष्ण कृष्ण हरे हरे
हरे राम हरे राम
राम राम हरे हरे

4. ओम नमो भगवते वासुदेवाय

यह मंत्र सबसे लोकप्रिय हिंदू मंत्रों में से एक है। यह वैष्णव सम्प्रदाय का हिस्सा है। इस मंत्र का अर्थ है “ओम, मैं भगवान वासुदेव या भगवान कृष्ण को नमन करता हूं”।यह बारह अक्षर का मंत्र, भगवान कृष्ण के रूप में विष्णु को समर्पित है । 

5. ओम शांति 

“ओम् शांति” मंत्र का जाप शांति के लिए किया जाता है। सभी मानव जाति के लिए शांति, सभी जीवित और निर्जीव प्राणियों के लिए शांति, ब्रह्मांड के लिए शांति, और हर चीज के लिए शांति। इस मंत्र का अन्य भजनों, मंत्रों और छंदों के रूप में पाया जाना आम है। इस मंत्र का जाप आमतौर पर तीन बार किया जाता है।

मंत्र 108 बार क्यों दोहराया जाता है?

108 ब्रह्मांड की अंतिम वास्तविकता और अनंत होने के रूप को एक साथ  दर्शाता है। 108 को हिंदू धर्म और योग में एक पवित्र संख्या माना जाता है। माला, या प्रार्थना माला, 108 मनकों की एक लड़ी के रूप में आती है। 

यहां पवित्र अंक के बारे में कुछ रोचक तथ्य दिए गए हैं। 108. दुर्गा के 108 नामों, भगवान कृष्ण के 108 नामों, भगवान राम, भगवान हनुमान के 108 नामों को भी देखें।
भगवान गणेश के नामों पर अधिक।

Translation by Vani K
Read this article in English. 5 Simple Mantras for Daily Life

Also Read :  5 Hindu Traditions to Help reduce Coronavirus